Site icon Pinkcity – Voice of Jaipur

शहर में नहीं हुई सोनाग्राफी

आमिर खान के सत्यमेव जयते के पहले एपिसोड में कन्या भ्रूण हत्या का मुद्दा उठाया गया। खासकर की राजस्थान को टारगेट किया गया। बस उसी के बाद से कोर्ट, सरकार, प्रशासन सख्ती बरतते नजर आए। लेकिन इससे डॉक्टरों का एक धड़ा नाराज हो गया। सख्ती बढ़ाने के खिलाफ निजी सेंटर्स लामबंद हो गए हैं। प्राइवेट हॉस्पिटल, नर्सिंगहोम और लेबोरेटरीज ने मरीजों की सोनोग्राफी नहीं करने का फैसला किया है। ये सभी  कन्याभ्रूण परीक्षण के खिलाफ बनाए गए अधिनियम की आड़ में सरकारी प्रताडऩा का विरोध कर रहे हैं। मंगलवार को शहर में कई सेंटर्स पर सोनोग्राफी नहीं हुई। जिसकी वजह से एसएमएस के साथ जनाना और महिला हॉस्पिटलों में भार बढ़ गया। यदि ज्यादा दिन तक प्राइवेट सेंटर्स पर सोनोग्राफी नहीं होती है तो मरीजों को काफी परेशानी आएगी।


Exit mobile version