Site icon Pinkcity – Voice of Jaipur

अव्‍यवस्‍थाओं की भरमार, अभ्‍यथी परेशान

 भारी अव्यवस्थाओं के बीच तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती परीक्षा सम्पन्न हो गई। 33 जिलों में जिला परिषदों के माध्यम से कराई गई भर्ती परीक्षा के लिए भारी सुरक्षा इंतजाम किए गए थे। एक दिन पहले तक सुप्रीम कोर्ट के फैसले के कारण लेवल फस्‍ट के बीएडधारी काफी परेशान दिखे और परीक्षा नहीं दे सके। वहीं बहुत से फ्रेशर्स ऐसे भी थे जिनका एक दिन पहले ऑनलाइन व्‍यवस्‍था में परमिशन लेटर डाउनलोड ही नहीं होने से उन्‍होंने एग्‍जाम तक नहीं दिया। बाड़मेर में सबसे ज्यादा अव्यवस्था देखने को मिली। यहां प्रथन स्तरीय परीक्षा में अपने रिश्तेदार के स्थान पर परीक्षा दे रहे एक द्वितीय श्रेणी शिक्षक को पुलिस ने हिरासत में लिया। उधर भरतपुर में अंग्रेजी और उर्दू विषय की परीक्षा को स्थगित कर दिया गया है। पुलिस सूत्रों के मुताबिक बाड़मेर के रेलवे स्कूल केन्द्र पर परिवीक्षक को परीक्षा में बैठे एक युवक पर शक हुआ। उससे पूछताछ की गई तो वह घबरा गया। उसने बताया कि वह अपने रिश्तेदार की जगह परीक्षा दे रहा था। वह स्वयं द्वितीय श्रेणी अध्यापक है। परीक्षा केन्द्र के प्रभारी की सूचना पर कोतवाली थाना पुलिस ने मौके पर पहुंच कर इस टीचर को हिरासत में लिया। पुलिस ने फिलहाल इस फर्जी परीक्षार्थी का नाम उजागर नहीं किया है।


Exit mobile version