Site icon

हेपेटाइटिस की रोकथाम के लिए किया जाएगा प्रचार प्रसार – मुख्य सचिव

जयपुर, 8 नवम्बर। मुख्य सचिव श्री डीबी गुप्ता ने कहा कि वाइरल हेपेटाइटिस एक जानलेवा रोग है और इस पर नियंत्रण के लिए आमजन को इसके प्रति जागरुक किया जाना सबसे अहम है। उन्होंने कहा कि वाइरल हेपेटाइटिस की स्क्रीनिंग तथा समय पर उपचार से ही इसके दुष्प्रभावों से बचा जा सकता है। श्री गुप्ता ने शुक्रवार को सचिवालय में वायरल हेपेटाइटिस नियंत्रण के संबंध में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए यह बात कही।

मुख्य सचिव ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश वासियों के स्वास्थ्य के प्रति संवेदनशील है। राज्य में हेपेटाइटिस रोग के प्रति लोगों की जागरुकता बढ़े इसके लिए विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम चलाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के चिकित्सकों को इसके संबंध में प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाएगा तथा शिक्षण संस्थानों में भी इसके व्यापक प्रचार प्रसार की व्यवस्था की जाएगी।

बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग श्री रोहित कुमार सिंह, आयोजना विभाग के प्रमुख शासन सचिव श्री अभय कुमार, सूचना एवं जनसंपर्क विभाग आयुक्त डॉ. नीरज कुमार पवन एवं इंस्टीट्यूट ऑफ लिवर एण्ड बाइलरी साइंसेज के प्रतिनिधि उपस्थित थे।


Exit mobile version