Site icon Pinkcity – Voice of Jaipur

एनिमिया खतरनाक स्तर पर

प्रदेश में 15 से 50 साल की 53 प्रतिशत महिलाएं एनीमिया यानी खून की कमी से पीडि़त हैं। बीकानेर में तो यह आंकड़ा 84 प्रतिशत है। हालांकि सरकार ने एनीमिया नियंत्रण कार्यक्रम चला रखा है, लेकिन एक सर्वे की रिपोर्ट बताती है कि ब्लॉक और ग्राम स्तर पर इस कार्यक्रम के बारे में सरकारी स्वास्थ्यकर्मियों को ही जानकारी नहीं है। सोमवार को अजीत फाउंडेशन की ओर से एनीमिया पर सेमीनार हुआ, जिसमें स्वास्थ्य और शिक्षा विभाग के साथ यूनिसेफ के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।


Exit mobile version