Site icon Pinkcity – Voice of Jaipur

जोशी से बढ़ी उम्मीद

भीलवाड़ा सांसद व केन्द्रीय भूतल परिवहन मंत्री सीपी जोशी को रेल मंत्रालय का अतिरिक्त कार्यभार क्या मिला पूरे मेवाड़-वागड़ की उम्मीदें परवान पर चढ़ गई हैं। जोशाी प्रदेश से रेलमंत्री बनने वाले पहले सांसद हैं। मेवाड़-वागड़ क्षेत्र के सांसद इसे महत्वपूर्ण उपलब्घि बता रहे हैं। सभी का मानना है कि क्षेत्र के रेल के विकास में यह मील का पत्थर साबित होगा। इधर, जोशी को रेल मंत्रालय मिलने की सुगबुगाहट के साथ उदयपुर रेलखण्ड में अघिकारियों की हलचल बढ़ गई। उत्तर-पश्चिम रेलवे के उच्चाघिकारियों ने कई तरह की जानकारी जुटाई। दक्षिणी राजस्थान की विभिन्न जरूरतों को सूचीबद्ध किया गया। राजस्थान से पहली बार किसी नेता को रेलवे जैसा बड़ा मंत्रालय दिया गया है। नए रेल मंत्री सी.पी. जोशी ने पत्रिका से कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने उन्हें जो अतिरिक्त जिम्मेदारी दी है उस पर वे खरा उतरने की कोशिश करेंगे। उन्होंने दोनों नेताओं का आभार जताया। उन्होंने कहा कि उनकी कोशिश रहेगी कि मंत्रालय में वे बेहतर काम कर सके। जिससे मंत्रालय फिर से लाभ की स्थिति में आ सके। वे अघिकारियों के साथ जल्दी ही बैठक कर मंत्रालय की जानकारी लेंगे। जोशी परिवहन मंत्रालय पहले से ही देख रहे हैं। तृणमूल के मुकुल रॉय के इस्तीफे से रेल मंत्रालय खाली था। शनिवार को प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने जोशी को अतिरिक्त प्रभार सौंपने की सिफारिश राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी से की। जोशी सोमवार तक कार्यभार संभाल लेंगे। कांग्रेस इस बार यह मंत्रालय अपने पास ही रखना चाहती है। यूपीए सरकार के गठन के बाद पहली बार रेल मंत्रालय कांग्रेस के पास आया है।


Exit mobile version