News Ticker

शासन सचिवालय में आयोजित राजस्थान प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की बैठक

राजस्थान प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की बैठक औद्योगिक इकाईयों को स्थापित करने और उन्हें नियमित रूप से चलाये जाने के लिए स्पष्ट नीति आवश्यक -मुख्य सचिव

जयपुर, 5 अगस्त 2020। मुख्य सचिव श्री राजीव स्वरूप ने कहा कि औद्योगिक इकाईयों को स्थापित करने और उन्हें नियमित रूप से चलाये जाने के लिए स्पष्ट नीति का होना आवश्यक है। उन्होंने अवैध औद्योगिक इकाईयों को बन्द करने या अन्यत्र शिफ्ट करते समय सकारात्मक और व्यवहारिक नीति अपनाने की आवश्यकता पर जोर दिया।मुख्य सचिव श्री राजीव स्वरूप बुधवार को शासन सचिवालय में आयोजित राजस्थान प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

बैठक में मुख्य सचिव श्री राजीव स्वरूप ने जयपुर के सांगानेर एवं विश्वकर्मा इण्डस्टि्रयल क्षेत्रों में चल रही इकाईयों की वस्तुस्थिति की जानकारी ली। उन्होंने अधिकारियों को रिहायशी और कृषि भूमि पर बनी उद्योग इकाईयों की समस्याओं के संबंध में जल्द से जल्द पुख्ता कार्यवाही करने के निर्देश दिये।

मुख्य सचिव ने सांगानेर तहसील में स्थित 650 ऎसी औद्योगिक यूनिट्स जो कृषि भूमि पर बनी हैं तथा 250 रिहायशी भूमि पर बनी इकाईयों के संबंध में संबंधित विभाग के उच्चाधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। उन्होेंने वी.के.आई क्षेत्र में बिना अनुमति एवं शर्तों के चल रही 1 हजार 200 औद्योगिक इकाईयों के संबंध में तुरन्त आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश भी दिये।

बैठक में अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं राजस्थान प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अध्यक्ष श्री पी.के. गोयल, वन विभाग की प्रमुख सचिव श्रीमती श्रेया गुहा, प्रमुख सचिव यू.डी.एच. श्री भास्कर ए. सावंत, उद्योग विभाग के प्रमुख सचिव श्री नरेश पाल गंगवाल, रेवेन्यु विभाग के प्रमुख सचिव श्री आनंद कुमार, रीको के मैनेजिंग डाइरेक्टर श्री आशुतोष पेंडनेकर,जयपुर विकास प्राधिकरण आयुक्त श्री गौरव गोयल, जयपुर कलेक्टर श्री अंतर सिंह नेहरा, आयुक्त नगर निगम ग्रेटर श्री दिनेश यादव एवं हैरिटेज नगर निगम के आयुक्त श्री लोकबंधु, नगर नियोजन विभाग के निदेशक सहित विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Source - Press Release
DIPR
Date: August 5, 2020
ID: 209401
%d bloggers like this: