News Ticker

उदयपुर में राज्य स्तरीय प्रतियोगिता का उद्घाटन

State level competition inaugurated in Udaipur

जयपुर, 20 नवंबर। जनजाति क्षेत्रीय विकास राज्य मंत्री अर्जुनसिंह बामनिया ने कहा है कि जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग द्वारा संचालित आवासीय मॉडल विद्यालयों व छात्रावासों के विद्यार्थी न सिर्फ खेल में अपितु शिक्षा के क्षेत्र में भी एकलव्य की भांति अपने लक्ष्य का संधान करें तथा अपना व क्षेत्र का नाम रोशन करें।

State level competition inaugurated in Udaipurराज्यमंत्री श्री बामनिया बुधवार को उदयपुर के खेल गांव में जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग के तत्वावधान में एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालयों की राज्य स्तरीय खेलकूद प्रतियोगिता के उद्घाटन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे।

इस मौके पर उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि खेल प्रतियोगिताएं हमें जीवन में प्रतिस्पर्धा, आपसी सौहाद्र्र और अनुशासन सिखाती है, ऎसे में हर विद्यार्थी को इससे सीखकर अपने जीवन का निर्माण करना चाहिए। उन्होंने विद्यार्थियों को राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं का लाभ लेते हुए अपने शैक्षिक विकास करने का आह्वान भी किया।

राज्यमंत्री बामनिया ने कहा कि जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग विद्यार्थियों को कॅरियर विषयक जानकारी प्रदान करने के लिए ग्रीष्मकालिन आवासीय कॅरियर कार्यशालाओं का आयोजन कर रहा है वहीं जल्द ही जयपुर में प्रतिभावान विद्यार्थियों के लिए प्रशासनिक सेवाआें में जाने के सपने को पूरा करने के लिए हॉस्टल की शुरूआत की जाएगी। उन्होंने कहा कि भविष्य में विभिन्न परीक्षाओं में अच्छे प्रतिशतांक लाने वाले विद्यार्थियों को भारत भ्रमण करवाने की भी योजना प्रस्तावित है।

इससे पूर्व राज्यमंत्री बामनिया ने ध्वजारोहण के साथ मौजूद खिलाड़ियों को खेल भावना से खेलने की शपथ दिलाई और तीर कमान से लक्ष्य संधान कर राज्यस्तरीय प्रतियोगिता का विधिवत शुभारंभ किया। इस दौरान प्रदेशभर से आए खिलाड़ियों ने मार्चपास्ट प्रस्तुत किया वहीं मधुवन आश्रम छात्रावास की बालिकाओं ने नृत्य प्रस्तुति देकर समां बांध दिया।

इस मौके पर टीएडी आयुक्त शिवांगी स्वर्णकार ने बताया कि दो दिवसीय इन खेलकूद प्रतियोगिताओं में विभाग द्वारा प्रदेश भर में संचालित 18 एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालयों में से छात्राओं के 5 व छात्रों के 13 दलों में 400 से अधिक जनजाति खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। इन प्रतियोगिताओं में तीरंदाजी, वॉलीबाल, फुटबाल, तैराकी, खो-खो, कबड्डी, हेण्डबाल, एथलेटिक्स, कुश्ती आदि खेलों का आयोजन किया जा रहा है। इन प्रतियोगिताओं में विजेता दल राष्ट्रीय स्तर पर भोपाल में 9 दिसंबर से होने वाली राष्ट्रीय प्रतियोगिता में भाग लेंगे।

शुभारंभ समारोह में जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग के आयुक्त श्रीमती शिवांगी स्वर्णकार ने खिलाड़ियों को विभाग द्वारा चलाई जा रही प्रोत्साहन योजनाओं का लाभ लेने की अपील की तथा इन योजनाओं से शिक्षा व खेल कौशल में अभिवृद्धि का आह्वान किया। उन्होंने प्रतियोगिता में खेलभावना से खेलने का भी आह्वान किया। अतिरिक्त आयुक्त रामजीवन मीणा ने स्वागत उद्बोधन देते हुए प्रतियोगिता के बारे में जानकारी प्रदान की।

समारोह में टीएडी परियोजना अधिकारी गीतेश्री मालवीय, टीआरआई के निदेशक दिनेश जैन व बाबूलाल कटारा, सुखेर थाने से पुलिस अधिकारी कर्मवीरसिंह और बड़ी संख्या में विभागीय अधिकारी-कर्मचारी और प्रदेशभर के एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय से पहुंचे खिलाड़ी मौजूद थे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: