News Ticker

सितम्बर माह के थोक मूल्य सूचकांक में 0.75 प्रतिशत की वृद्धि

जयपुर, 5 नवम्बर। राज्य का माह सितम्बर, 2019 को सभी वस्तुओं का थोक मूल्य सूचकांक आधार वर्ष (1999-2000=100) पर 317.02 रहा, जो कि गत माह के 314.68 की तुलना में 0.74 प्रतिशत की वृद्धि प्रदर्शित करता हैं। राज्य के मासिक सामान्य थोक मूल्य सूचकांक पर आधारित मुद्रास्फिति की वार्षिक दर (सितम्बर, 18) 3.89 प्रतिशत रही, जो गत माह में 3.67 प्रतिशत दर्ज की गई थी।

आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग के निदेशक संयुक्त शासन सचिव डॉ. ओम प्रकाश बैरवा ने बताया कि आलोच्य माह सितम्बर, 2019 के सूचकांक में गत माह से वृद्धि का प्रमुख कारण पांच प्रमुख समूह के सूचकांक में वृद्धि दर्ज होना रहा है। समीक्षाधीन माह में खाद्यान्न समूह में (1.73 प्रतिशत), अखाद्य समूह में ( 1.02 प्रतिशत ), खनिज उप समुह में ( 1.39 प्रतिशत ), ईंधन, शक्ति, प्रकाश एवं उपस्नेहक समूह में ( 0.45 प्रतिशत ), तथा विनिर्माण समूह में ( 0.29 प्रतिशत ), की वृद्धि होना हैं।

उन्होनें बताया कि माह सितम्बर, 2019 में प्राथमिक वस्तु समूह का सूचकांक गत माह की तुलना मे 1.50 प्रतिशत की वृद्धि हो कर 325.31 रहा हैं। प्राथमिक वस्तु समूह के कृषि उप समूह सूचकांक के अन्र्तगत वृद्धि का मुख्य कारण खाद्य व अखाद्य पदार्थ समूह सूचकांक में 1.73 प्रतिशत एवं 1.02 प्रतिशत वृद्धि होना है। इसके साथ ही खनिज उप समूह में 1.39 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई हैं। आलोच्य माह में प्राथमिक वस्तु समूह के सूचकांक में वृद्धि का प्रमुख कारण खाद्य उप समूह के अनाजों, फल, सब्जी, दूध तथा अण्डे, मांस एवं मछली एवं अन्य अखाद्य वस्तुओं के समूह तें तिलहन की कीमतों में वृद्धि होना रहा हैं।

इसी तरह खनिज उप समूह के अन्र्तगत वृद्धि होने का मुख्य कारण सीसा ( 2.19 प्रतिशत ), चाँदी( 9.37 प्रतिशत ), जस्ता ( 1.21 प्रतिशत ) इमारती पत्थर ( 1.98 प्रतिशत ) तथा चूना पत्थर ( 0.79 प्रतिशत ), की कीमतों में वृद्धि होना रहा है। प्राथमिक वस्तु समूह सचकांक में वार्षिक आधार पर सितम्बर, 2018 की तुलना में 7.10 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है।

श्री बैरवा ने बताया कि ईंधन, शक्ति, प्रकाश एवं उपस्नेहक समूह का सूचकांक माह सितम्बर, 2019 में गत माह का सूचकांक 465.58 की तुलना में 0.45 प्रतिशत की वृद्धि हो कर 467.68 हो गया हैं। समीक्षाधीन माह के दौरान सूचकांक में वृद्धि का प्रमुख कारण पैट्रोल ड़ीजल व रसाई गैस समूह की कीमतों में वृद्धि होना रहा हैं। वार्षिक आधार पर सितम्बर, 2018 की तुलना में ईंधन, शक्ति, प्रकाश एवं उपस्नेहक समूह में 2.70 प्रतिशत की कमी दर्ज की गई हैं।

उन्होंने बताया कि माह सितम्बर,2019 में विनिर्मित उत्पाद समूह का सूचकांक में गत माह के 261.51 में 0.29 प्रतिशत की वृद्धि के उपरान्त 262.27 हो गया हैं, जबकि सितम्बर, 2018 की तुलना में 5.37 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। आलोच्य माह में वृद्धि का प्रमुख कारण खाद्य पदार्थ, पेय एवं तम्बाकू पदार्थ, लकड़ी एवं लकड़ी से निर्मित उत्पादों, केमिकल, सामान्य प्रयोग के मशीनरी उत्पादों तथा मोटर वाहनों की कीमतों में वृद्धि होना रहा हैं जबकि कताई बुनाई एवं परिष्करण उत्पादों एवं आधारभूत कीमती एवं लौह धातु की कीमतों में कमी प्रदर्शित रही हैं।

श्री बैरवा ने बताया कि माह सितम्बर, 2019 में प्राथमिक वस्तु समूह 325.31, कृषि वस्तुओं के उपसमूह का 323.26, खनिज उपसमूह का 340.85, ईधन,शक्ति, प्रकाश एवं उपस्नेहक समूह का 467.68 एवं विनिर्मित उत्पाद समूह का 262.27 थोक मूल्य सूचकांक दर्ज किया गया।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: