News Ticker

अमर शहीद मोहन राम मूण्ड की मूर्ति का अनावरण देश की सुरक्षा और अखंडता के लिए सभी देशवासी एक – उप मुख्यमंत्री

जयपुर, 5 नवंबर। उप मुख्यमंत्री श्री सचिन पायलट ने कहा है कि देश की सुरक्षा और अखंडता की रक्षा के लिए सभी देशवासी हर तरह के मतभेद भुलाकर एक साथ उठ खड़ा होते हैं और यही हमारे देश की मिट्टी की ताकत है।

Amar Shaheed Mohan Ram Mund'sश्री पायलट मंगलवार को नागौर जिले की डीडवाना तहसील के निमोद गांव में शहीद मोहनराम मूण्ड की मूर्ति के अनावरण के बाद उपस्थित जन समूह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने इस अवसर पर सीमा सुरक्षा बल बीएसएफ की 76वीं बटालियन के डिप्टी कमांडेंट रहे अमर शहीद मोहनराम मूण्ड को नमन करते हुए कहा कि जनप्रतिनिधि होने के नाते बड़े भवन इमारतों के उद्घाटन के अवसर तो अक्सर मिलते रहते हैं लेकिन देश की सीमाओं को सुरक्षित रखने वाले शहीद की मूर्ति का अनावरण करने का अवसर मिलना उनके लिए सौभाग्य की बात है।

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि जो परिवार अपने सदस्य को खोता है, उसका दुख कोई नहीं समझ सकता लेकिन वे परिवार वास्तव में सौभाग्यशाली होते हैं, जहां ऎसे सपूत पैदा होते हैं । उन्होंने कहा कि शहीद मोहनराम मूण्ड के परिजनों का ख्याल रखना हम सभी की जिम्मेदारी है।

श्री पायलट ने शहीद मोहनराम मूण्ड की मूर्ति स्थल तक सड़क निर्माण की घोषणा करते हुए कहा कि इसके लिए बजट स्वीकृत कर शीघ्र काम शुरू करवा दिया जाएगा।

इससे पहले उप मुख्यमंत्री ने शहीद मोहनराम मूण्ड की मूर्ति का अनावरण किया और श्रद्धांजलि अर्पित की। बीएसएफ जवानों ने सलामी देकर शहीद को नमन किया।

श्री पायलट ने वीरांगना श्रीमती सोना देवी, शहीद के बड़े भाई श्री गिरधारी लाल एवं पुत्रों से भी मुलाकात की।

इस दौरान विधायक श्री चेतन डूडी, श्री मुकेश भाकर एवं श्री रामनिवास गावड़िया ने भी शहीद को श्रद्धासुमन अर्पित कर नमन किया और देश के लिए उनके सर्वोच्च बलिदान को याद किया।

उपमुख्यमंत्री ने शहीद हवलदार शब्बीर खान के घर जाकर परिजनों को सांत्वना दी

इसके उपरांत उप मुख्यमंत्री श्री सचिन पायलट मौलासर के समीप दाऊदसर गांव पहुंचे और शहीद हवलदार शब्बीर खान को श्रद्धांजलि अर्पित कर प्रार्थना की । श्री पायलट ने शहीद के शोक संतप्त परिजनों को ढाढस बंधाया।

सेना की आम्र्ड कॉप की 90 रेजीमेंट में तैनात शब्बीर खान बीकानेर स्थित महाजन फायरिंग रेन्ज में भारत-फ्रांस संयुक्त युद्धाभ्यास के दौरान टैंक का बैरल फटने के कारण शहीद हो गए थे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: