News Ticker

नहीं मिली रत्‍ना

विशेषाघिकार हनन (Special rights abuses) को लेकर विधानसभा की विशेषधिकार समिति की ओर से महिला सीआई रत्ना गुप्ता को गिरफ्तार कर गुरूवार सवेरे पेश करने के मामले में पुलिस नाकाम रही। पुलिस की ओर से समिति के सामने रत्ना के घर पर नहीं मिलने की रिपोर्ट सौंपी गई है। उधर,विशेषाघिकार समिति के अध्यक्ष सुरेन्द्र जाडावत ने कहा है कि इंस्पेक्टर को 5वीं बार मौका दिया गया था,लेकिन वह इसबार भी समिति के आगे पेश नहीं हुई। समिति अब इसकी रिपोर्ट सदन के सामने रखेगी। उल्लेखनीय है कि विधानसभा की महिला एवं बाल विकास समिति ने जुलाई 2010 में महिला थाना पश्चिम का दौरा कर तत्कालीन सीआई रत्ना गुप्ता से थाने में बंद अभियुक्तों व मुकदमों का रोजनामचा,केस डायरी व अन्य रिकॉर्ड मांगा था। सीआई गुप्ता के इनकार करने पर समिति ने विधान सभा अध्यक्ष से इस मामले की शिकायत की थी,जिस पर विधानसभा अध्यक्ष ने इस मामले को विशेषाघिकार समिति को सौंप दिया था। जानकारी के अनुसार पुलिस टीम जब महिला सीआई के आवास पर पहुंची,तो परिजनों ने उसके घर में होने से इनकार किया। पुलिस अधिकारियों ने परिजनों को समझा-बुझा कर रत्ना को पेशी के लिए राजी करने की कोशिश भी की लेकिन सफलता हाथ नहीं लग सकी। गौरतलब है कि विधान सभा की विशेषाघिकार कमेटी ने डीजीपी के नाम नोटिस जारी किया था,जिस पर गुरूवार सुबह विधायकपुरी थानाघिकारी महिला महिला कांस्टेबल के साथ सीआई रत्ना गुप्ता के निवास पर पहुंचे।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: