News Ticker

पहले मनाई खुशियां अब मायूस

तृतीय श्रेणी शिक्षक भर्ती परीक्षा के परिणाम में एसबीसी के कट ऑफ जारी करने में रही त्रुटि दूर करने के बाद सामान्य और ओबीसी वर्ग के कई अभ्यर्थियों को अरमानों पर पानी फिर गया है। पहले जारी की गई कट ऑफ लिस्ट में जिन लोगों को नंबर आ गए थे, उनके घरों में खुशियां मनाई गई, लेकिन नई लिस्ट जारी होते ही खलल पड़ गया। आंकड़ों के अनुसार ये त्रुटि 16 जिलों में रह गई थी और संशोधन के बाद इनमें से सात ऐसे जिले सामने आए जिनमें एसबीसी की कट ऑफ जारी होते ही ओबीसी और सामान्य वर्ग पर भी इसका असर आ गया है। इनमें बारां, बाड़मेर, चित्तौड़गढ़, धौलपुर, सवाई माधोपुर, सिरोही और उदयपुर शामिल हैं। वहीं, पांच जिलों अजमेर, अलवर, भीलवाड़ा, जयपुर और राजसमंद जिले ऐसे हैं जहां एसबीसी की कट ऑफ सही करने पर ओबीसी का कट ऑफ गड़बड़ा गया है। बूंदी में एसबीसी की कट ऑफ सही करने में सामान्य वर्ग की कट ऑफ ऊपर चढ़ने के बजाय नीचे आ गई। जैसलमेर में एसबीसी और सामान्य वर्ग की कट ऑफ तो यथावत रही, लेकिन ओबीसी की कट ऑफ करीब सात अंक चढ़ गई। कोटा में भी कुछ ऐसी ही स्थिति रही, जिसमें एसबीसी वैसी  रहने के बावजूद सामान्य वर्ग और ओबीसी की कट ऑफ काफी अंक तक चढ़ गई। सीकर की स्थिति इन सबसे अलग रहते हुए सामान्य और ओबीसी की कट ऑफ छिड़े बिना ही एसबीसी की कट ऑफ नीचे गई। इसके क्या कारण रहे इसका खुलासा नहीं है। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि कट ऑफ लिस्ट में संशोधन जारी कर दिया गया है और इसी के अनुसार अभ्यर्थियों को संबंधित जिला परिषदों में अपने शैक्षणिक और प्रशैक्षणिक दस्तावेजों के साथ जांच कराने के लिए उपस्थित होना है।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: